रविवार, नवंबर 18, 2007

भगवान् राम की जन्मतिथि

मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम भारत के जन मानस में सदियों से घर किये हुए हैं। इस कदर कि दूरदर्शन पर दिखाए जाने वाले "रामायण" के पात्रों को अभिनीत करने वाले कलाकारों को जन साधारण ने पूज्य माना है! इन्ही प्रभु राम की पिछले कुछ समय में सेतु समुद्रम मामले में काफी छीछलेदार हुई है। कुछ बडबोले नेताओ ने तो श्री राम के अस्तित्व पर ही सवाल उठा दिए थे! वैसे मुझ जैसे एग्नोस्त्त तो बाहर से तमाशा देख रहे थे और सोच रहे थे कि इंसान पहले तो खुद किसी को भगवान् बनाता है और फिर खुद ही उनकी प्रामाणिकता पर सवाल उठाता है!

सही कहा है वोल्टेयेर ने ,"If God did not exist, it would be necessary to invent him."

अब इन बातों का एक असर यह भी हुआ है कि कई लोग जो कि इस ओन्स्लौट से निष्प्राण रह गए थे वो फिर से सिर उठाने लगे हैं। इन जनाब का कहना है कि आने वाली १० जनवरी २००८ को श्री राम ७१२२ वर्ष के हो जायेंगे ! इन्होने यह तिथि आर्कियो-एस्त्रोनोमी ( पुरातत्व और खगोलविद्या के मेल से बनी एक नयी विधा) के बल पर प्राप्त कि है। इन्होने कुछ और महत्वपूर्ण तिथियाँ भी डिराइव की हैं जो मैं नीचे चिपका रह हूँ।

Sri Rama Navami - Birth day 10th January 5114 BCE
Birth of Bharatha 11th January 5114 BCE
Pre coronation eve 4th January 5089 BCE
Khar, Dushan episode 7th October 5077 BCE
Vali Vadham 3rd April 5076 BCE
Hanuman's Visit to Lanka 12th September 5076 BCE
Hanuman's Return from Lanka 14th September 5076 BCE
Army March to Lanka 12th September 5076 BCE

अब इस नविन विधा की प्रमाणिकता और वैज्ञानिक समुदाय में इनकी मान्यता क्या यह तो वही जाने, हमारा काम था बताना सो हमने किया ! वैसे आप देख ही सकते हैं कि ये तिथियाँ आपस में ही असंगत हैं!

2 टिप्‍पणियां:

  1. कुछ गड़बड़ है। राम जन्म तो चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की नवमी को था। वह जनवरी में तो नहीं हो सकता।

    उत्तर देंहटाएं
  2. इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं

तो कैसा लगी आपको यह रचना? आईये और कहिये...